Media4Citizen Logo
खबर आज भी, कल भी - आपका अपना न्यूज़ पोर्टल
www.media4citizen.com

ऋषिकेश के घाट पर : मोबाइल टायलेट

महापौर ने मोबाइल टायलेट के उद्वाटन के साथ घाटों के सौंदर्यीकरण एवं स्मार्ट बेंचेस का किया शिलान्यास. नगर निगम के चार वर्ष पूर्ण होने पर महापौर द्वारा अपने रिपोर्ट कार्ड को जनता के सम्मुख रखने के साथ साथ करोड़ों रूपये की विभिन्न योजनाओं का उद्वाटन एवं शिलान्यास किया.

मोबाइल टायलेट मोबाइल टायलेट
Author - राव शहजाद
राव शहजाद

ऋषिकेश , 02-12-2022


ऋषिकेश नगर निगम महापौर अनिता ममगाई ने निगम बोर्ड के चार वर्ष पूर्ण होने पर आज आस्थापथ पर स्थित 72 सीढ़ी घाट पर मोबाइल टायलेट का उद्घाटन किया. इस दौरान उन्होंने घाटों के सौंदर्यीकरण की योजना के साथ सोलर स्मार्ट बेंचेस का भी शिलान्यास किया. शुक्रवार को नगर निगम के चार वर्ष पूर्ण होने पर महापौर द्वारा अपने रिपोर्ट कार्ड को जनता के सम्मुख रखने के साथ साथ करोड़ों रूपये की विभिन्न योजनाओं का उद्वाटन एवं शिलान्यास किया गया.

इस अवसर महापौर ने कहा कि शहर के सर्वांगीण विकास के साथ गंगा किनारे आस्थापथ पर  श्रद्धालुओं और पर्यटकों के लिए शौचालय, बैंच, पेयजल सहित अन्य सुविधाओं की भी व्यवस्था की गई है. यह विकास कार्य लगातार जारी रहेंगे. उन्होंने कहा कि मेयर की कमान उन्होंने जनता की सेवा के लिए संभाली थी. इन चार वर्षों में सीमित संसाधनों के बावजूद बदलाव के लिए दृष्टिकोण की श्रृंखला अपनाई गई. अनेकों वृहद योजनाएं धरातल पर उतारी गई. मूल बुनियादी सुविधाएं आमजनमानस को उपलब्ध कराने के साथ समस्याओं से लेकर समाधान तक ईमानदारी के साथ कोशिश की गई. उन्होंने मौके पर मोजूद उपस्थिति को आश्वस्त किया कि आपकी समस्याओं का हर हाल में समाधान करने का प्रयास किया जायेगा. तीर्थ नगरी को विकास की पटरी पर संवारने में वह पिछले चार वर्षों से शिद्दत से जुटी हुई हैं.

विकास की किरण शहर के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचे इसकी प्रयास जारी हैं. कहा कि, देवभूमि का विकास ही मेरा एकमात्र लक्ष्य है. आगे भी विकास कार्य निरंतर जारी रहेंगे, जो मेरी सेवा का संकल्प है. उन्होंने बताया कि शहर की पथ प्रकाश व्यवस्था को दुरुस्त करने के साथ निगम में नये जुड़े क्षेत्रों को को भी हाई मास्ट के जरिए जगमग कराया गया. इसी का नतीजा है कि एम्स मार्ग हो या कोयल घाटी से आई डी पी एल - श्यामपुर जाने वाला मार्ग यहां सड़क हादसों के ग्राफ में कमि लाने में निगम प्रशासन कामयाब रहा. देश में स्वच्छता रेंकिंग में गंगा टाऊन के 43 शहरों में ऋषिकेश तीसरे स्थान पाने में  सफल रहा जोकि बड़ी उपलब्धि है. उन्होंने विभिन्न बड़ी योजनाओं को धरातल पर लाने के लिए निगम अधिकारियों व सक्रिय जनप्रतिनिधि पार्षदों की खुलकर सराहना करते हुए कहा कि शहर के चौक चौराहों के सौंदर्यीकरण व महापुरुषों के नाम पर उनके नामकरण से पूरे उत्तराखंड में एक सार्थक संदेश पहुंंचाने में निगम सफल रहा. तकरीबन चार सौ स्ट्रीट वैंडर्स को निगम द्वारा सभी आवश्यक सुविधाओं के साथ  रोजगार मुहय्या कराया गया.

महापौर ने जानकारी दी कि भारत सरकार की नमामि गंगे योजना के द्वारा ऋषिकेश में घाट सफाई के कार्य हेतु 235.41 लाख का काम होना है जिसमें 70 प्रतिशत केंद्र सरकार, 30 प्रतिशत नगर निकाय की मद से योजना सम्पन्न होगी. उन्होंने बताया कि निगम के चार वर्ष पूर्ण होने पर ऋषिकेश में आस्था पथ पर 36.52 लाख की राशि से स्टैंडर्ड साइनेजेज, लाइटिंग, बेंचेज का उद्घाटन किया जा रहा है. 36.46 लाख की लागत से जल्द ही त्रिवेणी घाट में महिलाओं एवं पुरुषों हेतु हाइटेक शौचालय का निर्माण कराया जायेगा. कार्यक्रम के दौरान गंगेश्वर महादेव मंदिर समिति द्वारा शहरवासियों को विभिन्न योजनाओं की सौगात देने पर उनका अभिनंदन भी किया गया.

इस अवसर पर मुख्य नगर आयुक्त राहुल गोयल, अधिशासी अभियंता  दिनेश उनियाल, स्वच्छता ब्रांड एंबेसडर महंत रवि प्रपन्नाचार्य, श्रीमती श्रीकांता शर्मा, पार्षद अजीत गोल्डी, राकेश सिंह, उमा बृजपाल राणा, प्रमोद शर्मा, प्रदीप कोहली, कमलेश जैन, विनोद शर्मा, सत्यवीर तोमर, रामकिशन अग्रवाल,  ब्रह्म कुमार शर्मा, चेतन शर्मा, प्रदीप धस्माना, संदीप शास्त्री, विवेक गोस्वामी, रवि शर्मा, मंजू बलोदी, किरण त्यागी, संजय वर्मा, राजीव गुप्ता, धीरेंद्र कुमार धीरू, विजय बिष्ट, गंगेश्वर महादेव मंदिर समिति अध्यक्ष योगेश चुन्नू, राजेश मनचंदा, नरेंद्र शर्मा, सुनीता सेमवाल, शैलेन्द्र रस्तोगी, संजय शर्मा, पंकज शर्मा,अजय कालड़ा, हरिओम शर्मा,रमेश अरोड़ा आदि प्रमुख रूप से शामिल थेे.


Published: 02-12-2022

लेटेस्ट


संबंधित ख़बरें