Media4Citizen Logo
खबर आज भी, कल भी - आपका अपना न्यूज़ पोर्टल
www.media4citizen.com

श्री गुरू नानक जी महाराज : 553वॉ प्रकाशोत्सव आयोजित

लखनऊ में कार्तिक पूर्णिमा का पावन पर्व और श्री गुरू नानक देव जी महाराज का 553वां प्रकाशोत्सव पूरे देश में धूमधाम से मनाया गया. इस पावन पर्व पर राजधानी के समस्त गुरूद्वारों में श्रद्धालुओं ने सुबह से ही गुरूद्वारों में जाकर गुरू महाराज के सम्मुख मत्था टेका, गुरू महाराज का आशीष प्राप्त कर सभी ने एक दूसरे को गुरू पर्व की लख-लख बधाईयॉ दी.

553वॉ प्रकाशोत्सव आयोजित 553वॉ प्रकाशोत्सव आयोजित
Author
बबिता बसाक

लखनऊ , 09-11-2022


लखनऊ में कार्तिक पूर्णिमा का पावन पर्व और श्री गुरू नानक देव जी महाराज का 553वां प्रकाशोत्सव पूरे देश में धूमधाम से मनाया गया. इस पावन पर्व पर राजधानी के समस्त गुरूद्वारों में श्रद्धालुओं ने सुबह से ही गुरूद्वारों में जाकर गुरू महाराज के सम्मुख मत्था टेका, गुरू महाराज का आशीष प्राप्त कर सभी ने एक दूसरे को गुरू पर्व की लख-लख बधाईयॉ दी. इस साल राजधानी गुरू महाराज का पावन पर्व के साथ गुरू द्वारा नाका हिंडोला 125 वॉ स्थापना दिवस भी मनाया रहा है, यह अत्यन्त हर्ष व राजधानीवासियों के लिये गर्व का विषय है.

गुरू द्वारा नाका हिंडोला प्रबंध समिति के अध्यक्ष राजेन्द्र सिंह बग्गा ने गुरू पर्व की लख-लख बधाईयॉ दी और सभी को गुरू महाराज के बताये मार्ग पर चलने और सभी को प्रेम, भाईचारा, सद्भाव व उनके उपदेशों को अात्मसात् करने को कहा. त्रिदिवसीय कार्यक्रम (6 से 8 नवम्बर) की जानकारी देते हुये कमेटी प्रमुख सतपाल सिंह मीत ने बताया कि आज प्रात: अखंड पाठ की समाप्ति के बाद फूलों से सुसज्जित गुरू महाराज जी शाही सवारी ने डीएवी कालेज ऐशबाग के लिये प्रस्थान किया जहॉ सुबह से ही भक्तों का तॉता लगा हुआ था.

श्री मीत ने बताया कि आज के कार्यक्रम में मुख्य अतिथि प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, संयुक्ता भाटिया (नगर महापौर), उप मुख्यमंत्री बृजेश पाठक, पूर्व उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा व अन्य अनेक मंत्रीगण भी शामिल हुये. खालसा इंटर कालेज के छात्रों ने मुख्यमंत्री के आगमन पर गार्ड ऑफ ऑनर प्रस्तुत किया. सभी अतिथियों ने गुरू महाराज के सम्मुख शीश झुकाकर नमन किया. मुख्यमंत्री ने गुरू पर्व पर सभी को शुभ कामनायें दी. अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि सभी को  गुरू नानक देव जी के बताये मार्ग और उनके संदेशों से प्रेरणा लेनी चाहिये.

कार्यक्रम 6 नवम्बर को सुबह अखंड पाठ और दोपहर में नगर कीर्तन निकाला गया. 7 नवम्बर को सॉय काल रहिरास साहिब पाठ, कीर्तन व गुरमत विचार के पश्चात अरदास के बाद संगत ने लंगर ग्रहण किया. मुख्य समारोह 8 नवम्बर को प्रात: 5 से 6.30 बजे तक सुखमनी पाठ हुआ जिसमें बड़ी संख्या मे संगत शामिल हुई, 7 बजे पालकी में गुरू महाराज की शाही सवारी डीएवी कालेज एशबाग पहुंची. सुसज्जित समारोह हॉल के मध्य श्री गुरू ग्रंथ साहिब जी महाराज, अलग-अलग पंक्तियों में पुरूष व महिलाओं ने स्थान ग्रहण किया, जहॉ कीर्तन भाई गुरचरन सिंह, सुखवन्त सिंह जी, गुरमत विचार जसवंत सिंह जी और सुखदेव सिंह जी ने रखे. इसके अलावा माता गुजरी, केकेएन व सिमरन साधना आदि ने कीर्तन प्रस्तुत कर सभी को गुरू महाराज जी के चरणों में बैठने पर बाध्य किया.

कार्यक्रम समापन पर सभी को सिरोपा देकर सम्मानित किया गया. पावन पर्व पर आज गुरू द्वारा नाका हिंडोला के 125 वर्ष पूर्ण होने पर ताल गुरू प्रोडक्शन पटियाला द्वारा गुरू नानक देव जी महाराज के जीवन पर आधारित विशेष लेज़र शो व स्टेज शो भी दिखाया गया समाप्ति पर लंगर भी वितरित किया गया. नाका गुरूद्वारा में भी सॉय काल रहिरास पाठ, कीर्तन और गुरमत विचार प्रस्तुत किया गया. इन सबके अतिरिक्त समारोह स्थल के बाहर कॉलेज परिसर में जोड़ी रख-रखाव व चाय नाश्ता आदि खाने पीने की सेवादारों ने सेवा की. आज के गुरू पर्व पर बच्चे, युवा, पुरूष, महिलायें सभी समारोह में शामिल हुये. सभी ने वहॉ पहुंचकर एक दूसरे को आज के पावन पर्व की लख लख बधाईयॉ दी. सभी ने साथ मिलकर एक ही पंगत में बैठकर लंगर छका, छोला, ब्रेड, जलेबी, चाय व कॉफी आदि का भी आनंद उठाया. कॉलेज परिसर में मौजूद सेल्फी प्वाइंट ने आज के पर्व को और अधिक आनंदमय व खुशनुमा बना दिया.


Published: 09-11-2022

लेटेस्ट


संबंधित ख़बरें